श्री सूर्यदेव जी के 108 नाम

  1. ॐ अंगारकाय नमः
  2. ॐ अंशुमते नमः
  3. ॐ अग्नये नमः
  4. ॐ अजाय नमः
  5. ॐ अदितिपुत्राय नमः
  6. ॐ अनन्ताय नमः
  7. ॐ अरिहाय नमः
  8. ॐ अर्काय नमः
  9. ॐ अर्यमाय नमः
  10. ॐ अलोलुपाय नमः
  11. ॐ अश्वत्थाय नमः
  12. ॐ आदित्याय नमः
  13. ॐ आदिदेवाय नमः
  14. ॐ आपाय नमः
  15. ॐ इन्द्राय नमः
  16. ॐ कपिलाय नमः
  17. ॐ कलयुगाय नमः
  18. ॐ कलायै नमः
  19. ॐ कामदाय नमः
  20. ॐ कालाध्यक्षाय नमः
  21. ॐ कालाय नमः
  22. ॐ काळचक्राय नमः
  23. ॐ काष्ठाय नमः
  24. ॐ क्षणाय नमः
  25. ॐ परम पुरुषाय नमः
  26. ॐ घातायै नमः
  27. ॐ जयाय नमः
  28. ॐ जीमूताय नमः
  29. ॐ जीवनाय नमः
  30. ॐ तमोनुदाय नमः
  31. ॐ तेजपत्या नमः
  32. ॐ तेजसे नमः
  33. ॐ त्रयोमूर्तये नमः
  34. ॐ त्रिविष्टपाय नमः
  35. ॐ त्रेताय नमः
  36. ॐ त्रैलोक्य लोचनाय नमः
  37. ॐ त्वष्टाय नमः
  38. ॐ दक्षाय नमः
  39. ॐ दिनकराय नमः
  40. ॐ दिवाकराय नमः
  41. ॐ दीप्तांशवे नमः
  42. ॐ देहकर्ताय नमः
  43. ॐ द्वादशत्मकाय नमः
  44. ॐ द्वादशात्मने नमः
  45. ॐ द्वापराय नमः
  46. ॐ धर्मध्वजाय नमः
  47. ॐ धूमकेतवे नमः
  48. ॐ नारायणाय नमः
  49. ॐ परायणाय नमः
  50. ॐ पुरुषाय नमः
  51. ॐ पूष्णे नमः
  52. ॐ पृथ्वै नमः
  53. ॐ प्रजाद्वाराय नमः
  54. ॐ प्रजाध्यक्षाय नमः
  55. ॐ प्रभाकराय नमः
  56. ॐ प्रशान्तात्मने नमः
  57. ॐ बुधाय नमः
  58. ॐ बृहस्पतये नमः
  59. ॐ भानवे नमः
  60. ॐ भानुमते नमः
  61. ॐ भास्कराय नमः
  62. ॐ भूतपत्या नमः
  63. ॐ भूताश्रयाय नमः
  64. ॐ मगाय नमः
  65. ॐ मृत्यवे नमः
  66. ॐ मोक्षद्वाराय नमः
  67. ॐ यमाय नमः
  68. ॐ योगिने नमः
  69. ॐ रवये नमः
  70. ॐ रुद्राय नमः
  71. ॐ वरदाय नमः
  72. ॐ वरुणाय नमः
  73. ॐ वायवे नमः
  74. ॐ विभावसवे नमः
  75. ॐ विशालाय नमः
  76. ॐ विश्वकर्मणे नमः
  77. ॐ विष्णवे नमः
  78. ॐ वेदकर्ताय नमः
  79. ॐ वेदवाहनाय नमः
  80. ॐ वेदांगाय नमः
  81. ॐ व्यत्काव्यक्राय नमः
  82. ॐ शनैश्चराय नमः
  83. ॐ शाश्वताय नमः
  84. ॐ शुक्राय नमः
  85. ॐ शुचिने नमः
  86. ॐ सत्ययुगाय नमः
  87. ॐ सनातनाय नमः
  88. ॐ सर्वतोमुखाय नमः
  89. ॐ सर्वभूतनिषेविताय नमः
  90. ॐ विश्वात्मने नमः
  91. ॐ सर्वभूतादिकाय नमः
  92. ॐ सर्वलोकनमस्कृताय नमः
  93. ॐ संवत्सरकराय नमः
  94. ॐ संवर्तकाय नमः
  95. ॐ सवितायै नमः
  96. ॐ सागराय नमः
  97. ॐ सूक्ष्मात्मने नमः
  98. ॐ सुपर्णाय नमः
  99. ॐ स्वर्गद्वाराय नमः
  100. ॐ लोकोधाराय नमः
  101. ॐ सूर्याय नमः
  102. ॐ सृष्टाय नमः
  103. ॐ सोमाय नमः
  104. ॐ स्कन्दाय नमः
  105. ॐ स्वयम्भुवे नमः
  106. ॐ हरिदश्वाय नमः
  107. ॐ चराचरात्मने नमः
  108. ॐ विश्वतोमुखाय नमः

काल के जनक भगवान भास्कर के अष्टोत्तर शत नाम का जप अरुणोदय में कर – उन्हें सुगन्धित जल से अर्घ्य प्रदान नित्यप्रति करें इससे आपका जीवन सौरभमय व सुखद् होगा।