श्री त्रिमूर्तिधाम बालाजी हनुमान मंदिर

श्री राम जी की स्तुति

श्री रामचन्द्र कृपालु भजु मन हरण भवभय दारुणं ।

नवकञ्ज लोचन कंजमुख करकञ्ज पद कंजारुणं ।।

कंदर्प अगणित अमित छवि नवनील-नीरज-सुंदरम ।

पटपीत मानहूँ तड़ित रुचि शुचि नौमि जनकसुतावरम् ।। 

भजु दीनबंधु दिनेश दानव - दैत्यवंश - निकन्दनं । 

 

रघुनन्द आनन्द कन्द कौशल-चन्द्र दशरथ - नन्दनम ।।

सिर मुकुट कुण्डल तिलक चारु उदारु अंग विभूषणम् ।

आजानुभुज शर - चाप - धर संग्राम जित खरदूषणम् ।।

इति वदति तुलसीदास शंकर - शेष - मुनि मन रञ्जनम् ।

मम ह्रदय कञ्ज निवास कुरु कामादि खल - दल - गञ्जनम् ।।

मन जाहि राचौ मिलहि सो वर सहज सुन्दर साँवरो ।

करुणा निधान सुजान शील सनेह जानत रावरो ।।

एहिभाँति गौरी आशीष सुनि सिय सहित हिय हर्षित अली ।

तुलसी भवानी पूजी पुनि पुनि मुदित मन मन्दिर चली ।।

जानि गौरी अनुकूल सिय हिय हर्ष न जाहि कहि ।

मञ्जुल मंगल मूल वाम अंग फरकन लगे ।।

 

बोलो सियावर रामचन्द्र की जय

 

आगामी मुख्य कार्यक्रम

पर्व:- श्री संस्थापना पर्व (मढ़ावाला)

अक्टूबर
बुधवार
4
श्री सुन्दरकाण्ड सामूहिक पाठ संगव 10 बजे।
श्री पताकारोपण मध्यान 12 बजे।
श्री भण्डारा प्रारम्भ मध्यान 12:30 बजे

पर्व:- श्री हनुमान जयन्ती

अक्टूबर
मंगलवार
17
श्री हनुमान जयंती || श्री धनवंतरी जयन्ती || धनत्रयोदशी || धनतेरस || यम प्रीत्यर्थ दीपदान
17-10-2017
श्री राम चरित्र मानस पाठ प्रारम्भ प्रातः 9 बजे।
18-10-2017
श्री सुन्दरकाण्ड सामूहिक पाठ संगव 10 बजे।
श्री पताकारोपण मध्यान 12 बजे।
मध्यान 12:30 बजे से भण्डारा है।
श्री सहस्त्र दीपदान रात्रि 7 बजे।

मुख्य समाचार

पर्व:- श्री प्रेतराज जयन्ती

03 फरवरी 2017

पर्व श्री प्रेतराज जयन्ती, श्री त्रिमूर्तिधाम में 2 फरवरी को बड़ी हर्षोलास के साथ मनाया गया। 


Download our Android AppDownload our Calendar in PDF for OfflineSubscribe to our Google Calendar for Complete Hindi Samvat CalendarClick here and feel to write us